कोविडएक्शनकोलैब का #ऑनवर्ड टुगेदर मना रहा है अपने सहयोगात्मक प्रयासों के प्रभाव और शक्ति का जश्न

  


भारत, दिल्ली, नई दिल्ली

यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी), स्कोल फाउंडेशन और इसके 350+ सहयोगी संगठनों के साथ मिलकर कोविडएक्शनकोलैब (सीएसी) ने महामारी के दौरान भारत के कमजोर समुदायों के सफलतापूर्वक सेवा के 2.49 करोड से ज्‍यादा उदाहरण पेश किए हैं। इस यात्रा और पिछले ढाई वर्षों के सहयोगात्मक प्रयास का जश्न मनाने के लिए, सीएसी और यू.एस.ए.आईडी ने इन प्रभावशाली कहानियों को दर्शाने के लिए इंडिया हैबिटेट सेंटर में 1 से 3 सितंबर, 2022 के बीच 'ऑनवर्ड टुगेदर' नामक एक फोटो प्रदर्शनी आयोजित की गई और प्रमुख शख्सियतों की कोशिशों को पहचान दी।

कोविडएक्शनकोलैब (सीएसी) की स्थापना स्वास्थ्य, आजीविका और आपदा जोखिम में कमी जैसे क्षेत्रों में सरकारों, नागरिक समाज और प्रमुख संगठनों को एक साथ लाने के उद्देश्य से की गई थी। भारत भर में संसाधनों के साथ कमजोर समुदायों को सशक्त करके, सीएसी ने महामारी के दौरान इन समुदायों में लचीलापन लाने में मदद की।

अपनी पहल के माध्यम से, सीएसी ट्रांसजेंडर लोगों, यौनकर्मियों, प्रवासियों, निर्माण श्रमिकों, किसानों, बुजुर्गों, शहरी गरीबों और लैंगिक हिंसा से बचे लोगों जैसे समुदायों तक पहुंच गया है। संदेह को दूर करने और समुदायों के निर्माण के लिए की गई कुछ पहलों में टीकाकरण अभियान, स्वास्थ्य परामर्श सत्र और आजीविका के अवसरों की सुविधा शामिल हैं। हमारे साझेदारों के समर्थन से समुदायों में आए जमीनी परिवर्तन को प्रदर्शित करने वाले कुछ हालिया कार्यों में टीकाकरण ड्राइव, सटीक स्वास्थ्य निगरानी की पहल और टेलीकेयर शामिल हैं।

कुशल फोटोग्राफर, जयसिंह नागेश्वरन और सतीश वीएम के सहयोग से, कोविडएक्शन कोलैब इस चित्रमय कहानी को बताने में सक्षम हुए हैं, और इसका हम जश्न मना रहे है।

इस आयोजन ने हमारे सहयोगियों को महामारी से अलग हटकर अपने कोशिशों का विस्तार करने की घोषणा करने का अवसर भी प्रदान किया। सीएसी ने समुदाय का समर्थन जारी रखने और बेहतर कल के लिए सेना में शामिल होने की अपनी योजना भी पेश की। "कम्युनिटी एक्शन कोलेब" के रूप में हमारी यह शुरूआत फिर अपने सहयोगियों के साथ, अधिक उज्‍जवल भविष्य की तैयारी कर रही है!

इस आयोजन के बारे में बोलते हुए, शिव कुमार - संस्थापककोविडएक्शन कोलैब ने साझा किया, "पिछले दो वर्षों मेंमहामारी ने भारत की हाशिए पर रहने वाली और कमजोर आबादी पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है। यूएसएआईडीजमीनी स्तर के संगठनोंनागरिक समाज निकायों और सरकार के सहयोग से सीएसी ने कमजोर आबादी को भोजनटीकाकरणराशन और अन्य आपातकालीन राहत के साथ सफलतापूर्वक 2.40 करोड सेवाएं प्रदान की है। अपनी स्थापना के बाद से कई उपलब्धियां हासिल करने के बादहम एक फोटो प्रदर्शनी के रूप में लोगों के सामने अपनी इस शुरूआत का प्रदर्शन करते हुए बेहद खुश हैं। हमारा लक्ष्य सहयोगियों के प्रभाव को रेखांकित करना हैजिससे हमारे मौजूदा काम पर हमारी पहुंच और बढ़ सके। यह सही वक्‍त पर समुदायों के प्रति हमारे ध्‍यान केन्द्रित करने का जश्न है। कल कम्युनिटी एक्शन कोलेब के माध्यम से हम एक बेहतर तैयारी के लिए और ऊपर जाने की प्रतिज्ञा करते हैं!"

वीना रेड्डीमिशन निदेशकयूएसएआईडी ने शेयर किया - कुल मिलाकर, यह आयोजन एक मंच के माध्यम से कमजोर समुदायों और व्यक्तियों के शक्तियों को सामने लाता है और साथ ही उन साझेदार संगठनों का समर्थन करता है जो इसे निष्पादित करने और देश के क्षेत्रों और कमजोर समुदायों के समर्थन के लिये इन प्रयासों को बढ़ाने में महत्वपूर्ण रहे हैं।

Topics

Top Post Ad

Below Post Ad

g ads